Share this post

Share this postउत्तर प्रदेश की ट्रैफिक पुलिस को मिली बसपा शासनकाल की वर्दी उत्तर प्रदेश में यातायात पुलिस के जवान

"/>

उत्तर प्रदेश की ट्रैफिक पुलिस को मिली बसपा शासनकाल की वर्दी

Share this post
उत्तर प्रदेश की ट्रैफिक पुलिस को मिली बसपा शासनकाल की वर्दी

उत्तर प्रदेश में यातायात पुलिस के जवान अब गहरे नीले रंग की पैंट और सफेद रंग की शर्ट में दिखेंगे। यातायात पुलिसकर्मी यह वर्दी प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सरकार में पहनते थे।

लखनऊ उत्तर प्रदेश में यातायात पुलिस के जवान अब गहरे नीले रंग की पैंट और सफेद रंग की शर्ट में दिखेंगे। यातायात पुलिसकर्मी यह वर्दी प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सरकार में पहनते थे। पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि इसका उद्देश्य महाराष्ट्र और दिल्ली जैसे अन्य राज्यों के साथ एकरूपता लाना है। इन राज्यों में ट्रैफिक पुलिस की वर्दी सफेद शर्ट और गहरे नीले रंग की पैंट है। मायावती ने 2008 में अपने शासन में ट्रैफिक पुलिस की वर्दी सफेद शर्ट-सफेद पेंट से बदलकर सफेद शर्ट और नीली पैंट कर दी थी। उनका मानना था कि सफेद पैंट जल्दी गंदे हो जाते हैं।

यह वर्दी बसपा की एक फ्रंटल शाखा बहुजन वॉलंटियर फोर्स (बीवीएफ) जैसी होने के कारण विवाद की संभावनाओं को देखते हुए यह निर्णय वापस ले लिया गया था। इसके बाद प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) की सरकार आने पर अखिलेश यादव ने ट्रैफिक पुलिस की वर्दी बदलकर सफेद शर्ट और खाकी पैंट कर दी थी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ट्रैफिक) पुर्णेंदु सिंह ने कहा कि वदीर् बदलने पर सहमति अक्टूबर में बनी और दो महीने का समय नई वर्दी की तैयारियों के लिए दिया गया। उन्होंने कहा कि नया ड्रेस कोड राज्य में सभी ट्रैफिक उप-निरीक्षकों के साथ-साथ ट्रैफिक निरीक्षकों पर भी लागू होगा।

यूपी चीफ

राज प्रताप सिंह