Share this post

Share this postबदायूं!क्षत्रिय महासभा बदायूं के तत्वावधान में महाराणा प्रताप प्रतिमा स्थल की सुरक्षा की मांग को लेकर महाराणा प्रताप

"/>

प्रतिमा खंडित से आक्रोशित क्षत्रिय समाज ने महाराणा प्रताप चौक पर जाम लगाकर किया प्रदर्शन

Share this post

बदायूं!क्षत्रिय महासभा बदायूं के तत्वावधान में महाराणा प्रताप प्रतिमा स्थल की सुरक्षा की मांग को लेकर महाराणा प्रताप चौक बदायूं पर जनपद भर से सैकड़ों की संख्या में क्षत्रियो ने प्रदर्शन कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया जिससे यातायात बाधित हो गया तथा वाहनों की लम्बी कतारें लग गई। प्रदर्शन की भनक लगते ही प्रशाशन हरकत में आया। नगर मजिस्ट्रेट बदायूं महाराणा प्रताप चौक पर पहुंचे प्रतिमा स्थल का निरीक्षण किया तथा महासभा के पदाधिकारियों के साथ विचार विमर्श के पश्चात पन्द्रह दिन में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने का आश्वासन दिया, ज्ञापन प्राप्त किया। तदन्तर आन्दोलन स्थगित कर दिया गया।
इस अवसर पर क्षत्रिय महासभा के प्रदेश कोषाध्यक्ष डॉ सुशील कुमार सिंह ने कहा कि महाराणा प्रताप प्रतिमा स्थल जनपद के सबसे सुरक्षित स्थान पर है फिर भी सुरक्षित नहीं है,बार बार प्रतिमा स्थल को क्षतिग्रस्त किया जा रहा है।ज्ञापन देने के बाद भी प्रशासन नहीं जागा। ऐसा लगता है कि प्रशासन प्रतिमा स्थल की सुरक्षा के प्रति गंभीर नहीं है। यदि प्रशासन नहीं जागा तो पूरे मंडल में चक्का जाम कर दिया जाएगा।
प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य डॉ शैलेन्द्र कुमार सिंह ने कहा कि जनपद बदायूं में महाराणा प्रताप के अनुयायियों की संख्या कम नहीं है, जिला प्रशासन महाराणा प्रताप के अनुयायियों को हल्के में लेकर चूक न करें।
जिला अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि क्षत्रिय महासभा जनपद का सबसे मजबूत गैर राजनीतिक संगठन है,हम अहिंसा के उपासक हैं, लेकिन हमारे धैर्य की परीक्षा न ली जाए। यदि महाराणा प्रताप प्रतिमा स्थल से फिर छेड़छाड़ हुई तो गम्भीर परिणाम होंगे।
इस अवसर पर प्रमुख रूप से धनपाल सिंह,प्रताप सिंहआचार्य, राजेंद्र सिंह तोमर, मंडल उपाध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह, मंडल सन्गठन मन्त्री विजय पाल सिंह भदौरिया, जिला संयोजक मुनीश कुमार सिंह, वेदपाल सिंह कठेरिया, राणा प्रताप सिंह, उमेश राठौर,राम प्रताप सिंह,सत्यभान सिंह, जितेंद्र सिंह, राजपाल सिंह चौहान, उमेश कुमार सिंह, सुरेश पाल सिंह, विजय रतन सिंह, सतेन्द्र पाल सिंह, रतन वीर सिंह,आर्येन्द्र पाल सिंह, गिरीश पाल सिंह, अमित कुमार सिंह,अजय तोमर, गोविंद राणा अखिलेश सिंह,सूरज पाल सिंह सोलंकी, दिनेश सिंह, धर्मवीर सिंह,पन्कज सिंह, अवनीश कुमार सिंह,आरेश प्रताप सिंह,भवेश प्रताप सिंह, नरेंद्र सिंह, जगमोहन सिंह राघव,विक्रम सिंह,विनय कुमार सिंह, अरविंद परमार, शेर बहादुर सिंह,भारत सिंह, धर्मेंद्र सिंह वैध, डाल भगवान सिंह,धीरज पाल सिंह राणा, देवी सिंह देवड़ा, रंजीत सिंह,रानी सिंह,भुवनेश कुमार सिंह, मोहित कुमार सिंह,प्रदीप कुमार सिंह, राजेश सिंह तोमर, अलंकार सिंह, करूणेश राठोड़, मुनेन्द्र सिंह,अम्बुज सिंह, राजपाल सिंह राठोड़, अखिलेश चौहान, अजीत प्रताप सिंह, सत्यवीर सिंह आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
*शमसुद्दीन*