पुलिस स्मृति दिवस में शहीदो को दी भावभीनी श्रृद्धांजली

Share this post

Hits: 2

*पुलिस स्मृति दिवस में शहीदो को दी भावभीनी श्रृद्धांजली*

 

बदायूँ! पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस परेड ग्राउंड में शहीद पुलिसकर्मियों को याद किया गया। एसएसपी डाॅ. ओपी सिंह ने कहा कि हम अपने पुलिस बलों व उनके परिवारों को सलाम

करते हैं साथ ही गर्व के साथ उन बहादुर पुलिस कर्मियों को जो शहीद हो गये थे उन्हें याद भी करते हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा शहीद हुए पुलिसकर्मियों को स्मरण कर भावभीनी

श्रृद्धांजली दी गई।परेड ग्राउण्ड मे पुलिस अधीक्षक नगर प्रवीण सिंह चौहान, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण सिद्धार्थ वर्मा,क्षेत्राधिकारी नगर चन्द्रपाल सिंह, प्रतिसार निरीक्षक पंकज सिंह के अलावा अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे सभी पुलिस अधिकारियों ने शहीद स्थल पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीदों

को नमन कर दो मिनट मौन धारण भी किया साथ ही एसएसपी द्वारा शहीद हुए पुलिसकर्मियों के परिजनों को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित कर उन्हें सहायता राशि दी गयी।
गौरतलब है की 21 अक्टूबर को प्रतिवर्ष पुलिस स्मृति दिवस मनाया जाता है। सुना जाता है लगभग 55 वर्ष पूर्व 21 अक्टूबर 1959 में लद्दाख में तीसरी बटालियन की एक

कम्पनी को अजेय भारत समाचार तिब्बत सीमा की सुरक्षा के लिए लद्दाख में ‘हाट स्प्रिंग‘ में तैनात किया गया था। कम्पनी को टुकड़ियों में बांटकर चौकसी करने को कहा गया। जब बल के 21 जवानों का गश्ती दल ‘हाट स्प्रिंग‘ में गश्त कर रहा था तभी चीनी फौज के एक बहुत बड़े दस्ते ने इस गश्ती टुकड़ी पर घात लगाकर आक्रमण कर दिया। तब बल के मात्र 21 जवानों

ने चीनी आक्रमणकारियों का डटकर मुकाबला किया मातृभूमि की रक्षा के लिए लड़ते हुए 10 शूरवीर जवानों ने अपने प्राणों का बलिदान दिया हम सबके लिए यह बडे गौरव की बात है कि केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के इन बहादुर जवानों के बलिदान को देश के सभी केन्द्रीय पुलिस संगठनों व सभी राज्यों की सिविल

पुलिस द्वारा ‘‘पुलिस स्मरण दिवस‘‘ के रूप में मनाया जाता है। और हर राज्य का पुलिस बल उन बहादुर पुलिस वालों की याद में इस दिवस का आयोजन करता है। 21 अक्टूबर पुलिस सेवा के लिए एक महत्त्वपूर्ण दिवस है।

error: Content is protected !!